होम City News नाबालिग बेटी को फांसी लगाकर पिता ने कि हत्या , मोबाइल फ़ोन...

नाबालिग बेटी को फांसी लगाकर पिता ने कि हत्या , मोबाइल फ़ोन से मिली तस्वीर ने खोला राज


नाबालिग बेटी की फांसी लगाकर पिता ने की हत्या

वारदात के बाद रची आत्महत्या की कहानीदूसरी पत्नी को फसाने के लिए रची थी साजिश

नागपुर : संवाददाता

नागपुर के कलमना थाना क्षेत्र में दिल दहला देने वाली एक घटना सामने आई है. एक व्यक्ति ने अपनी दूसरी पत्नी और ससुराल वालों को फंसाने के लिए अपनी ही बेटी की बलि चढ़ा दी. आत्महत्या करने का नाटक रचाया और ससुराल वालों को फंसाने में कामयाब भी हो गया लेकिन उसके मोबाइल फोन में मिली कुछ तस्वीरें पुलिस के हाथ लग गईं जिससे हत्या का सनसनीखेज खुलासा हुआ. हालांकि मामले का पूरा खुलासा होने तक पुलिस ने इस पूरे मामले गोपनीय रखा था. इस मामले में पुलिस ने आरोपी कलमना निवासी गुड्डू छोटूलाल रजक (40) को गिरफ्तार कर लिया है. छोटू की पहली पत्नी आरती ने कलह के चलते वर्ष 2016 में जहर पी कर आत्महत्या कर ली थी. पहली पत्नी से उसे माही (16) और खुशी (12) नामक बेटियां हैं. पत्नी की मौत के बाद वर्ष 2018 में गुड्डू के संबंध कौशल्या पिपरडे नामक महिला से जुड़ गए. दोनों पति-पत्नी की तरह लिव इन रिलेशन में रहने लगे लेकिन उसके सनकी स्वभाव के चलते कौशल्या भी कुछ समय पहले ही घर छोड़कर चली गई. कौशल्या को अपने पिता, भाई और भाभी से मदद मिलती थी. गुड्डू ने कौशल्या और उसके परिवार को फंसाने का प्लान बनाया।

6 नवंबर को तड़के माही द्वारा फांसी लगाए जाने की जानकारी पुलिस को मिली. पुलिस ने पंचनामा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. पुलिस को उसके पास सुसाइड नोट मिला. जिसमें उसने सौतेली मां, मामा और मामी पर प्रताड़ित करने और शारीरिक शोषण का उल्लेख किया था. पुलिस ने तीनों के खिलाफ विविध धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया. इस घटना को लेकर शुरुआत से ही संदेह जताया जा रहा था. पुलिस को गुड्डू के हावभाव भी ठीक नहीं लग रहे थे. उसके फोन की जांच करने पर कुछ तस्वीरें डिलीट किए जाने का पता चला. तकनीकी माध्यमों से डाटा रिट्रीव करने पर कुछ फोटो मिली. उसमें माही फांसी का फंदा गले में डालते, जीभ बाहर निकालते दिखाई दे रही है. 1 फोटो में खुद गुड्डू भी दिखाई दे रहा है. फंदे की रस्सी ढीली थी. जिसके चलते पुलिस को उस पर कुछ संदेह हुआ आखिर पुलिस ने गुड्डू को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की. सख्ती बरतने पर उसी ने माही की हत्या की कबूली दी. गुड्डू ने माही और छोटी बेटी को कौशल्या और उसके परिवार को फंसाने के लिए राजी किया .

विनोद भालेदार पाटिल – थाना प्रभारी कलमना

गुड्डू ने दोनों बेटियों को बताया था कि सौतेली मां और उसके परिवार को फंसाने के लिए फांसी लगाने का केवल नाटक करना है. फोटो निकालकर पूरे परिवार को फंसा देंगे. उसके कहे अनुसार ही माही ने सुसाइड नोट लिखे थे. गुड्डू ने खुद फंदा तैयार किया. छोटी बेटी को मोबाइल पर तस्वीरें खींचने को कहा. माही ने प्लास्टिक के स्टूल पर चढ़कर गले में फंदा डाला. कुछ तस्वीरें खींचने के बाद गुड्डू ने स्टूल को लात मार दी. माही फंदे पर झूल गई और उसकी मौत हो गई. छोटी बेटी की आंखों के सामने ये सब हुआ था।


पुलिस ने रिश्तेदारों के जरिए उससे भी पूछताछ की. उसने पिता की पूरी योजना का कच्चा-चिट्ठा खोल दिया. पूछताछ में आरोपी ने यह सारी योजना क्राइम पेट्रोल देखकर बनाने की बात स्वीकार की है।


पुलिस ने आरोपी गुड्डू के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है लेकिन सच तो ये है कि गुड्डू अपने मनसूबों में कामयाब भी हो गया था. उसके द्वारा रचाए गए नाटक में सौतेली मां और उसका परिवार भी आत्महत्या के लिए मजबूर करने और लैंगिक शोषण करने के मामले में आरोपी बन गया. प्रकरण की जांच जारी है

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

90 दिन तक नही रुकना पड़ेगा अब पेमेंट के लिए , फ़िल्म इंडस्ट्री को लेकर बनेगा नियम

फ़िल्म इंडस्ट्री से जुड़े कामगारों को मिलेगी अब एक बड़ी राहत ... अब उन्हें अपनी...

Crime : मुंबई में महिला ने किया आत्महत्या,पुलिस ने किया मामला दर्ज

मुंबई में महिला ने किया आत्महत्या,पुलिस ने किया मामला दर्ज मुंबई के अंधेरी इलाके में...

” धन्यवाद मोदी जी ” इस अभियान से जुड़ रहे है बड़ी संख्या में मुस्लिम – हाजी अरफ़ात शैख़

" धन्यवाद मोदी जी " इस अभियान से जुड़ रहे है बड़ी संख्या में मुस्लिम - हाजी अरफ़ात...

गुणवत्तापूर्ण सड़कों के माध्यम से राज्य की अलग पहचान बनाएंगे- सीएम एकनाथ शिंदे

गुणवत्तापूर्ण सड़कों के माध्यम से राज्य की अलग पहचान बनाएंगे- सीएम एकनाथ शिंदे मुंबई :...