होम News हाथी के दांत बेचने वाले तशकरो को पुलिस ने किया गिरफ्तार

हाथी के दांत बेचने वाले तशकरो को पुलिस ने किया गिरफ्तार

हाथी के दांत बेचने वाले तशकरो को पुलिस ने किया गिरफ्तार

2 आरोपियों को पकड़ा जिनके पास से 20 लाख रुपए की कीमत के हाथी के दांत बरामद हुए

घाटकोपर पुलिस ने घाटकोपर इलाके में हाथी के दांत बेचने वाले दो तस्करों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों का नाम दीपक कुमार प्रभुदयाल वैष्णव और मोहम्मद फिरोज हाफिज शेख हैं।

दरअसल सब-इंस्पेक्टर महेश शेलार को सूचना मिली थी कि घाटकोपर रेलवे स्टेशन के पास दो व्यक्ति हाथी के दांत बेचने आ रहे हैं। जिसके बाद पुलिस ने जाल बिछाया और वहां जाकर पोलिस ने दोनों आरोपियों को धर दबोचा। बजार मे इस हाथी के दांत की कीमत लगभग 20 लाख रुपये है।

दोनों आरोपियों पर वन्यजीव संरक्षण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। जितेंद्र अगरकर (वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक , घाटकोपर) ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि हम जांच कर रहे है कि ये दांत कहाँ से लाये थे किसको बेचने वाले थे । आरोपियों ने और ऐसा कोई अपराध किया है पहले भी किया है क्या , और इस पूरे मामले कितने लोग शामिल है उसकी जड़ तलाशने में जुटी है।

यानी की पोलिस अब इनका आपराधिक बहीखाता खंगालने में जुट चुकी है ताकि इस बात की जानकारी मिल सके कि हाती के दांत की तश्करी करने वाले और कितने आरोपी है जो इसमे शामिल है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

देवेंद्र फड़णवीस का बंगला वाशिंग मशीन का काम कर रही है – बाला साहेब थोरात

कांग्रेस नेता बाला साहेब थोरात ने रश्मि शुक्ला और मोहित कंबोज की देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात पर कहा की देवेंद्र फडणवीस का...

दही हंडी को लेकर सरकार अपनी योजना बताए – सुनील प्रभु

शिवसेना विधायक सुनील प्रभु ने शिंदे सरकार को घेरने का प्रयास किया उंन्होने दही हंडी के आयोजन को लेकर सरकार की घोषणा...

पूरी दुनिया बीजेपी जितना चाहती है – नाना पटोले

कांग्रेस नेता और महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने विधानसभा मानसून सत्र के दूसरे दिन बीजेपी पर निशाना साधते हुए कई एहम...

खड्ढे के कारण नेशनल पार्क ब्रिज पर एक्सीडेंट 2 की मौत

खड्ढे के कारण नेशनल पार्क ब्रिज पर एक्सीडेंट 2 की मौत वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे नेशनल पार्क ब्रिज पर खड्ढे...

बचा पोश एक जटिल प्रथा जो सैकड़ो सालों से अफगानिस्तान में चली आ रही है

बचा पोश यह शब्द सुनकर आप को लग रहा होगा की यह क्या है ?बचापोश एक ऐसे जटिल प्रथा है जो सेकड़ो...