होम Strategy Politics पालघर में हुई हत्या को धार्मिक रंग नही दे इसमे कोई मुस्लिम...

पालघर में हुई हत्या को धार्मिक रंग नही दे इसमे कोई मुस्लिम नही था – अनिल देशमुख

मुंबई – तृप्ति निंबुलकर

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने फेसबुक लाईव के जरिए पालघर मामले और वाधवान मामले में दिया बयान कहा की सभी को जानकारी है की पालघर में जो घटना हुई , वो बिल्कुल गलत हुई, लेकिन वहां अफवाह फैलाया गया था की कुछ लोग बच्चा चोरी करते हैं इलाके मे , हालांकि जांच अब CID को दी गई है। मैं बता दूं कि मामले मे जांच कर 101 लोगो को गिरफ्तार किया गया है , 101 मे से 1 भी मुस्लिम व्यक्ति नही है।

वो लोग स्थानिय भाषा में ओय बस..ओय बस यानी रुक जाओ कह रहें थे लेकिन उसे शोहब कहकर पेश किया गया इस मामले को धार्मिक रंग देने की कोशिश की गई है आज पूरे महाराष्ट्र मे सभी corona से लडाई लड़ रहे है ऐसे मे धार्मिक रंग लाना बिल्कुल गलत है, लेकिन ऐसे समय मे भी कुछ लोग मुंगेरी लाल के हसीन सपने देखने का काम कर रहे है,सभी सरकार को सहायता करे।

वाधवान परिवार जो बाहर गये थे,उनका आज होम कोरेनटाइन खत्म हो रहा है, ऐसे मे हमने ED और CBI को उनको हिरासत मे लेने के लिये कहा है , जांच एजेन्सी वाधवान परिवार को अपनी हिरासत मे लेकर निष्पक्ष जांच करे। इस मामले मे कोई भी रियायत वाधवन परिवार को नहीं सौपा जायेगा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

देवेंद्र फड़णवीस का बंगला वाशिंग मशीन का काम कर रही है – बाला साहेब थोरात

कांग्रेस नेता बाला साहेब थोरात ने रश्मि शुक्ला और मोहित कंबोज की देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात पर कहा की देवेंद्र फडणवीस का...

दही हंडी को लेकर सरकार अपनी योजना बताए – सुनील प्रभु

शिवसेना विधायक सुनील प्रभु ने शिंदे सरकार को घेरने का प्रयास किया उंन्होने दही हंडी के आयोजन को लेकर सरकार की घोषणा...

पूरी दुनिया बीजेपी जितना चाहती है – नाना पटोले

कांग्रेस नेता और महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने विधानसभा मानसून सत्र के दूसरे दिन बीजेपी पर निशाना साधते हुए कई एहम...

खड्ढे के कारण नेशनल पार्क ब्रिज पर एक्सीडेंट 2 की मौत

खड्ढे के कारण नेशनल पार्क ब्रिज पर एक्सीडेंट 2 की मौत वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे नेशनल पार्क ब्रिज पर खड्ढे...

बचा पोश एक जटिल प्रथा जो सैकड़ो सालों से अफगानिस्तान में चली आ रही है

बचा पोश यह शब्द सुनकर आप को लग रहा होगा की यह क्या है ?बचापोश एक ऐसे जटिल प्रथा है जो सेकड़ो...