होम News दिव्यांग अगर सोच ले कि हर मुश्किल को पार कर अपने परिवार...

दिव्यांग अगर सोच ले कि हर मुश्किल को पार कर अपने परिवार को पालना है तो उसके लिए हर मुश्किल आसान है – शरीफ देशमुख ( नवभारतिय शिववाहतुक सेना -कार्यकारी अध्यक्ष )

दिव्यांग अगर सोच ले कि हर मुश्किल को पार कर अपने परिवार को पालना है तो उसके लिए हर मुश्किल आसान है – शरीफ देशमुख ( नवभारतिय शिववाहतुक सेना -कार्यकारी अध्यक्ष )

मुंबई – संवादाता

नवभारतिय शिववाहतुक संघटन द्वारा मोहन पवार नाम के एक रिक्शा चालक को सम्मानित किया गया जो दिव्यांग होने के बावजूद भी किसी पर निर्भर नही हो कर अपना और अपने परिवार का पेट भर रहा है अपनी मेहनत से , मोहन पवार का हौसला बढ़ाने के लिए नवभारतीय शिववाहतुक संघटन के कार्यकारी अध्यक्ष शरीफ देशमुख द्वारा सन्मानित किया गया इस दौरान मकबूल मुजावर (उपाध्यक्ष) और अन्य मान्यवर भी मौजूद थे।

सरीफ देशमुख ने कहा कि सातारा जिले के फलटण से आये और मुंबई के कालिना मे रहनेवाले रिक्षा चालक मोहन पवार से मुलाकात हुई । सांताक्रूझ से कुर्ला कार्यालय तक के सफर में विकलांग मोहन की मेहनत को देखकर मन भर आया। कईबार भगवान इंसान को सभी अंग ठीकठाक देता है उसके बावजुद इंसान मेहनत से कोसो दूर खडा नजर आता है।ऐसें मे मोहन जैसे शक्स लोगो के लिए एक प्रेरणा है जो अपने आप को दिव्यांग समझ कर जिनदगी से मायूस रहते है , मोहन पवार को सन्मानित करने का मौका मिला जिसकी मुझे खुशी है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

देवेंद्र फड़णवीस का बंगला वाशिंग मशीन का काम कर रही है – बाला साहेब थोरात

कांग्रेस नेता बाला साहेब थोरात ने रश्मि शुक्ला और मोहित कंबोज की देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात पर कहा की देवेंद्र फडणवीस का...

दही हंडी को लेकर सरकार अपनी योजना बताए – सुनील प्रभु

शिवसेना विधायक सुनील प्रभु ने शिंदे सरकार को घेरने का प्रयास किया उंन्होने दही हंडी के आयोजन को लेकर सरकार की घोषणा...

पूरी दुनिया बीजेपी जितना चाहती है – नाना पटोले

कांग्रेस नेता और महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने विधानसभा मानसून सत्र के दूसरे दिन बीजेपी पर निशाना साधते हुए कई एहम...

खड्ढे के कारण नेशनल पार्क ब्रिज पर एक्सीडेंट 2 की मौत

खड्ढे के कारण नेशनल पार्क ब्रिज पर एक्सीडेंट 2 की मौत वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे नेशनल पार्क ब्रिज पर खड्ढे...

बचा पोश एक जटिल प्रथा जो सैकड़ो सालों से अफगानिस्तान में चली आ रही है

बचा पोश यह शब्द सुनकर आप को लग रहा होगा की यह क्या है ?बचापोश एक ऐसे जटिल प्रथा है जो सेकड़ो...