होम Strategy Politics महाराष्ट्र मेँ अकेले लडी बीजेपी तो भी विधानसभा में बहुमत के पार...

महाराष्ट्र मेँ अकेले लडी बीजेपी तो भी विधानसभा में बहुमत के पार होगी।

महाराष्ट्र मेँ अकेले लडी बीजेपी तो भी विधानसभा में बहुमत के पार होगी।

मुंबई – संवादाता

लोकसभ चुनाव को नतीजे और लागातर विरोधी पार्टी के दिग्गज नेताओं का बीजेपी में शामिल होने से बीजेपी के हौसले बुलंद है , सूत्रों के अनुसार बीजेपी के अंदुरनी सर्वे के अनुसार महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव में बीजेपी 288 सीटों में से 170 सीटों पर जीत दर्ज कर सकती है इस सर्वे के बाद सहयोगी पार्टी शिवसेना के साथ किस तरह का होगा गटबंधन इसे लेकर अब आपसी राजनीति शुरू ।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव की तैयारियों में कमर कस चुकी बीजेपी को इँटर्नल सर्वे मे बहुमत के पार जीत का आँकडा हासिल हो रहा है इसे लेकर बीजेपी के खेमे ने खुशी का माहौल है , सी.एम. देवेन्द्र फडणवीस की अगुवाई मेँ सूबे में दमखम दिखा रही बीजेपी ने आगामी चुनाव में अकेले अपने दमपर चुनावी समर मे उतरने पर पार्टी का स्थिति का अँदाज़ लगाने का आँतरिक सर्वे करवाया।
बीजेपी सूत्र बताते हैं कि सर्वे मेँ पार्टी को अकेले दमपर 170 विधायक जीतने का नतीजा हाथ आया है।
बिना शिवसेना से हाथ मिलाये सूबे की कुल 288 मेँ से 170 विधानसभा सीटोँ के जीतने के सर्वे के नतीजे से बीजेपी मन ही मन गदगद है।

बीजेपी के आँतरिक सर्वे का अनुमान है कि बीजेपी और शिवसेना गठबंधन कर चुनावी मैदान में उतरी तब दोनों को 200 सीटों पर जीत हासिल होगी।
और विपक्षी पार्टियों कांग्रेस, एनसीपी और अन्य दल महज 88सीटों पर सिमट कर रह जायेँगे।
विधानसभा चुनाव से ऐन पहले
बीजेपी के आँतरिक सर्वे मेँ पार्टी को पता चला है कि बीजेपी अगर एकला चलो रे की राह पकडकर चुनावी समर मे कूदती है तो बीजेपी की झोली मेँ जहाँ 170 सीटें आती नजर आ रहीँँ हैँ वहीं शिवसेना 80- 85 सीटों पर ही जीत दर्ज करती नजर आ रही है।
और ऐसी स्थिति में विपक्षी दलों का चुनाव मेँ सूबे में सूपड़ा ही साफ होता दिखाई दे रहा है।
सर्वे बताता है कि विपक्षी दलों कांग्रेस और एनसीपी की सुई 38-40 सीटों पर अटक कर रह जायेगी।
और बीजेपी अकेले अपने दम पर महाराष्ट्र में दोबारा अपनी सरकार बनाने में कामयाब होगी। हालांकि बीजेपी पिछले 2014 के विधानसभा चुनाव की तरह फिलहाल महाराष्ट्र में एकला चलो रे का नारा नहीं दे रही है लेकिन पार्टी मोदी लहर के भरोसे विधानसभा पर अकेले अपने दमपर कब्जा करने का प्लान – बी तैयार रखे हुए है।

महाराष्ट्र में विपक्ष दल बदलू नेताओं से पहले ही परेशान है। लोकसभा चुनाव में सूबे में कांग्रेस के एक से एक दिग्गज धूल चाट गए और काँग्रेस महज एक सीट पर सिमट चुकी है।
जबकि शरद पवार की एनसीपी मे भगदड मची हुई है और एक एक कर नेता पार्टी छोड बीजेपी और शिवसेना की राह पकड रहे हैं।
सूबे में सियासी माहौल मेँ बीजेपी पहली पसंद बनी हुई है।
बीजेपी की सहयोगी शिवसेना की भी साँसें अटकी हुई है। दर असल शिवसेना मुँबई, थाणे और कोँकण छोड प्रदेश के दूसरे इलाकों मेँ बेअसर पडी हुई है। जबकि बीजेपी विदर्भ, मराठवाड़ा और पश्चिम महाराष्ट्र समेत मुँबई और कोँकण मेँ भी पाँव पसार चुकी है।
और यही वजह है कि बीजेपी का एक धडा
सूबे मे शिवसेना से गठबंधन तोडकर अपने दमपर चुनाव मेँ इसबार भी किस्मत आजमाना चाहता है। हालांकि मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस शिवसेना से गठबंधन कर चुनावी समर मे कूदने का दावा बार बार करते नजर आते है।
उधर शिवसेना बीजेपी के आँतरिक सर्वे से दिल ही दिल तुनकी हुई है। लेकिन बीजेपी पर सियासी वार के बजाय पार्टी अपनी स्थिति और दमखम का बखान कर रही है।

विधानसभा चुनाव से पहले दोनों दल के बीच सर्वे को लेकर मतभेद बन सकते है बड़ा भाई और छोटे भाई की भूमिका को लेकर इससे पहले भी कई बार दोनों पार्टियों के बीच मतभेद देखने मिल चुका है।
मौजूदा विधानसभा महाराष्ट्र में बीजेपी अपने दमपर 123 विधायकोँ वाली पार्टी है।
जबकि विपक्षी दलों के आधा दर्जन से ज्यादा विधायक पार्टियां छोड़ फडणवीस सरकार मे शामिल हो चले हैँ।
शिवसेना का विधान सभा मे सँख्या बल बीजेपी से आधे से भी कम 62 है।
बीजेपी सूबे में फिर एक बार फडणवीस सरकार का नारा देकर बीजेपी के ही पाले मे सी.एम. कुर्सी का नारा दे बैठी है।
मुख्यमंत्री फडणवीस बीजेपी के ख्वाब को ताबीर देने के लिए प्रदेश भर मेँ महाजनादेश
यात्रा पर निकले हुए हैं।
और शिवसेना अपने युवा चेहरे आदित्य ठाकरे को सी.एम.चेहरा बनाकर आगे बढ़ा रही है।
और सीएम कुर्सी ही दोनों के बीच में खटास का सबब है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

राहुल गांधी आज करेंगें गुजरात मे चुनावी प्रचार

राहुल गांधी आज करेंगे गुजरात मे प्रचार कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज से गुजरता में होने वाले विधानसभा चुनाव...

शिवसेना ने सामना के जरिये बीजेपी और शिंदे सरकार से किया सवाल शिवराय को लेकर ब्यान देने वालो पर क्या है उनकी भूमिका

शिवसेना ने अपने मुख्यपत्र सामना के जरिए बीजेपी - शिंदे सरकार पर निशाना साधते हुए कई सवाल उठाया और इस पर जोर...

नाबालिग बेटी को फांसी लगाकर पिता ने कि हत्या , मोबाइल फ़ोन से मिली तस्वीर ने खोला राज

नाबालिग बेटी की फांसी लगाकर पिता ने की हत्या वारदात के बाद रची आत्महत्या की कहानीदूसरी पत्नी को फसाने...

सामना ने संपादकीय के जरिये इतिहास को तोड़मरोड़ के पेश करने वालो के खिलाफ जताई नाराजगी

सामना के संपादकीय के जरिए शिवसेना ने एक बार फिर निशाना साधा है जो इतिहास बको तोड़मरोड़ के पेश करते है ।...

जितेंद्र आव्हाड के खिलाफ एक और गंभीर मामला दर्ज

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के विधायक और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री रह चुके जितेंद्र अव्हाड की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले...