होम Strategy Politics राम मंदिर को लेकर महाराष्ट्र में सियासत तेज

राम मंदिर को लेकर महाराष्ट्र में सियासत तेज

राम मंदिर को लेकर महाराष्ट्र में सियासत तेज

राम मंदिर की पहली ईंट रखने को शिवसैनिकों तैयार रहो- उद्धव ठाकरे

विपक्ष ने बताया चुनावी बयान

मुंबई – संवादाता

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले राम मंदिर का मुद्दा एक बार फिर गूँजने लगा है , शिवसेना ने अपने मुख्यपत्र सामना के जरिये कहा कि राम मंदिर की पहली ईट शिवसैनिक रखेंगें जिसके लिए शिवसैनिक तैयार है।

शिवसेना द्वारा कहा सामना में की ” ‘न्यायालय का निर्णय जो आएगा, वो आएगा परंतु जिस हिम्मत से सरकार ने अनुच्छेद ३७० को हटाया, उसी हिम्मत से अयोध्या में राम मंदिर बनाने का काम शुरू करे।’ ऐसा दृढ़ मत शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने व्यक्त किया। ‘मातोश्री’ पर शिवसेना पदाधिकारियों की बैठक के दौरान कल उन्होंने राम मंदिर के संदर्भ में शिवसेना की भूमिका स्पष्ट की।
सर्वोच्च न्यायालय में अयोध्या व राम मंदिर के संदर्भ में प्रतिदिन चल रही सुनवाई के कारण किसी भी क्षण पैâसला अपेक्षित है। शिवसेना द्वारा राम मंदिर के संदर्भ में किए गए संघर्ष व पिछले वर्ष राम मंदिर के सवाल पर शिवसेना के लगातार दबाव के कारण सकारात्मक बातें हो रही हैं और राम मंदिर निर्माण कार्य को कोई रोक नहीं सकता है, ऐसा मत उद्धव ठाकरे ने व्यक्त किया।
‘बाबरी’ विध्वंस में जान न्यौछावर करनेवाले शिवसैनिक थे। उन्हें याद करते हुए गत एक वर्ष में दो बार अयोध्या जाकर राम मंदिर के सवाल पर लोगों को जागृत किया, ऐसा उद्धव ठाकरे ने स्पष्ट किया। ‘अयोध्या’ आंदोलन में शिवसेना का योगदान अमूल्य है और देश ने इसको देखा है। राम मंदिर की पहली र्इंट रखने के लिए शिवसैनिकों तैयार रहो! ऐसा आदेश उद्धव ठाकरे ने दिया। ”

उद्धव ठाकरे का बयान

राम मंदिर श्रद्धा और आस्था की बात है,बालासाहब भी पहले कह चुके है,बड़ी बात होगी शिवसैनिक इट रखते है पहली तोह।

अब ज्यादा रुकने के लिए किसी के पास वक्त नाही जल्द से जल्द बने राम मंदिर

विशेष कानून बने राम मंदिर के लिए
देश का हित देखकर हम साथमे रहे पाकिस्तान को सबक सिखाना जरूरी है।

राम मंदिर के वक्त बाबरी तोड़ने की जिम्मेदारी शिवसेना प्रमुख ने ली थी,370 हटाया अपने अधिकार क्षेत्र में,केंद्र राम मंदिर पर भी फैसला ले।

शरद पवार को पिछले चुनाव में जनता ने जवाब दिया था…(पाकिस्तान के लोगो की मेहमान नवाजी की तारीफ करने पर)

समाजवादी पार्टी के नेता अबु हासिम आज़मी का बयान

राम मंदिर का मुद्दा कोर्ट में शुरू है इसके बावजूद लोगो को पोलोराइज करने के लिए यह मुद्दा उठाया जा रहा है , शिवसेना कभी बीजेपी की बड़ी भाई होती थी अब ना घर की है ना घाट की ऐसे में इस तरह के बयानबाजी कर रही है। कोर्ट को इस बारे में नोटिस करना चाहिए कि एक तरफ मामला कोर्ट में है और यह कानून बनाने की बात कर रहे है।

कांग्रेस नेता माणिकराव ठाकरे का बयान

शिवसेना चुनाव देख कर राम मंदिर का मुद्दा उठा रही है ताकि दूसरे जो भी मुद्दे है वो हट जाए , कई लोगो की नोकरिया जा रही है कई रोजगार बंद हो रहे है उसे हटाने के लिए इस तरह की बयानबाजी की जा रही है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

शिवसेना ने सामना के संपादकीय के जरिये बीजेपी सरकार पर साधा निशाना

शिवसेना ने सामना के संपादकीय के जरिये बीजेपी सरकार पर साधा निशाना ‘डी’ गैंग का रहस्य! इस...

क्रिकेट ट्रॉफी चैलेंजर्स का हुआ सफल आयोजन, मुंबई पुलिस की QRT टीम बनी विजेता

क्रिकेट ट्रॉफी चैलेंजर्स का हुआ सफल आयोजन, मुंबई पुलिस की QRT टीम बनी विजेता ट्रॉफी चैलेंजर्स 2022 क्रिकेट टूर्नामेंट...

कोरोना की पाबंदियों के बाद मुंबई में सांसद मनोज कोटक के नेतृत्व में आयोजित हुआ सबसे बड़ा खेल महोत्सव

कोरोना की पाबंदियों के बाद मुंबई में सांसद मनोज कोटक के नेतृत्व में आयोजित हुआ सबसे बड़ा खेल महोत्सव

मुंबई पुलिस ने सभी धर्मो के लोगों के साथ चर्चा की

मुंबई पुलिस ने सभी धर्मो के लोगों के साथ चर्चा की कानून का उलंघन करने वालो पर करवाई के...

आज पहली बार टीवी पर देखिए ख़ेसारी लाल आम्रपाली दुबे और श्रुति राव की ‘आशिकी ‘

आज पहली बार टीवी पर देखिए ख़ेसारी लाल आम्रपाली दुबे और श्रुति राव की 'आशिकी ' भोजपुरी सिनेमा के...