होम News रिक्शा-कटैक्सी का मीटर जीपीएस बेस्ड होगा

रिक्शा-कटैक्सी का मीटर जीपीएस बेस्ड होगा

रिक्शा-कटैक्सी का मीटर जीपीएस बेस्ड होगा


यात्रियों के लिए ऐप भी विकसित करने की योजना मीटर रीडिंग मैच करने के लिए

मुंबई: मुंबई परिवाहन विभाग की तरफ से यह विचार किया जा रहा है कि रिक्शा-टैक्सी के मीटर को जीपीएस बेस्ड किया जाए।  मुंबई में चार लाख से ज्यादा ऑटो और चालीस हजार के करीब टैक्सियां हैं। हर एक वाहन के मीटर को अपडेट करने के लिए ₹700 रुपये खर्च करने पड़ते हैं, जबकि अलग-अलग कंपनियों के मीटर की अलग-अलग समस्या होती है। इसका समाधान निकालने के लिए अब परिवहन विभाग जीपीएस पर आधारित मीटर पर विचार कर रहा है।


 जीपीएस आधारित मीटर बनाने के लिए परिवहन विभाग द्वारा जल्द ही निर्माताओं के साथ बैठक की जाएगी। ये मीटर सस्ते भी होते हैं केवल सिम कार्ड की जरूरत होती है। यात्रियों के लिए एक ऐप भी विकसित करने की योजना है, जो मीटर की रीडिंग से मैच करेगी। यात्री को किराया का अंदाज चल जाएगा।

अब किराया वृद्धि होने पर टैक्सी और ऑटो के मीटर को अपडेट किया जा रहा है। आरटीओ के अनुसार अब तक करीब 22 हजार ऑटो को अपडेट किया जा चुका है, जबकि सोमवार से टैक्सी के मीटर अपडेट करने की शुरुआत हुई है। जिन ऑटो या टैक्सी के पंजीकरण का अंतिम नंबर ‘जीरो’ (0) है, उन्हें अपडेट के लिए 1 मार्च से 7 मार्च तक का समय दिया गया है। इसी तरह आखिरी नंबर 9 पहुंचने तक हर सप्ताह चरणबद्ध तरीके से अपडेट किया जाएगा। मुंबई 4.6 लाख ऑटो और 60 हजार टैक्सियों के मीटर को अपडेट किया जाएगा।

ऑटो टैक्सी को मीटर अपडेट के लिए 31 मई तक का समय दिया है। इस दौरान मीटर की रीडिंग देखकर नए टैरिफ कार्ड के अनुसार किराया लिया जा सकता है। 1 जून से किराया केवल मीटर की रीडिंग के आधार पर ही किया जा सकेगा। टैक्सी का न्यूनतम किराया दिन में 25 रुपये और 28 रुपये मिड नाइट के लिए होगा। कूल केब के लिए न्यूनतम किराया 33 रुपये और मिडनाइट किराया 42 रुपये देना होगा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

राहुल गांधी आज करेंगें गुजरात मे चुनावी प्रचार

राहुल गांधी आज करेंगे गुजरात मे प्रचार कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज से गुजरता में होने वाले विधानसभा चुनाव...

शिवसेना ने सामना के जरिये बीजेपी और शिंदे सरकार से किया सवाल शिवराय को लेकर ब्यान देने वालो पर क्या है उनकी भूमिका

शिवसेना ने अपने मुख्यपत्र सामना के जरिए बीजेपी - शिंदे सरकार पर निशाना साधते हुए कई सवाल उठाया और इस पर जोर...

नाबालिग बेटी को फांसी लगाकर पिता ने कि हत्या , मोबाइल फ़ोन से मिली तस्वीर ने खोला राज

नाबालिग बेटी की फांसी लगाकर पिता ने की हत्या वारदात के बाद रची आत्महत्या की कहानीदूसरी पत्नी को फसाने...

सामना ने संपादकीय के जरिये इतिहास को तोड़मरोड़ के पेश करने वालो के खिलाफ जताई नाराजगी

सामना के संपादकीय के जरिए शिवसेना ने एक बार फिर निशाना साधा है जो इतिहास बको तोड़मरोड़ के पेश करते है ।...

जितेंद्र आव्हाड के खिलाफ एक और गंभीर मामला दर्ज

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के विधायक और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री रह चुके जितेंद्र अव्हाड की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले...