होम Tech Entertainment अभिनेता विनोद यादव के हाथों बरेली में कॉलेज का हुआ उदघाटन

अभिनेता विनोद यादव के हाथों बरेली में कॉलेज का हुआ उदघाटन

अभिनेता विनोद यादव के हाथों बरेली में कॉलेज का हुआ उदघाटन


बरेली : भोजपुरी सिनेमा के युवा अभिनेता विनोद यादव के हाथों सोमवार को जनपद के बेहड़ी इलाके में ‘MG कॉलेज ग्रुप ऑफ एजुकेशन’ का उदघाटन किया गया । इस अवसर पर बरेली नगर परिषद के अध्यक्ष श्री नसीम अहमद जी भी विशेष अतिथि के तौर पर उपस्थित रहे । कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए स्थानिय लोगों ने बढ़ चढ़ कर बड़ी तादात में हिस्सा लिया । ज्ञात हो कि बेहड़ी इलाके में ये पहला पैरामेडिकल कॉलेज है जिसका इंतज़ार स्थानिय जनता को काफी समय से था ।

इस अवसर पर कॉलेज के मैनेजिंग डाइरेक्टर डॉक्टर महफूज़ ने कहा कि ‘ये कॉलेज पैरामेडिकल के क्षेत्र में उचित शिक्षा प्रदान करने में अपनी शानदार मौजूदगी ज़रूर दर्ज करवाएगा ‘ । वहीं लोगों को संबोधित करते हुए अभिनेता विनोद यादव ने कहा कि उनकी अपनी ज़िंदगी मे शिक्षा ने बहुत अहम रोल निभाया है , फिल्मी दुनिया में अपना एक अहम स्थान बनाने में उनकी एजुकेशन ने काफी मदत की ।

आप को बता दें कि गुंडा के बाद विनोद यादव की नई फिल्म कर्मपुत्र भी लगभग बनकर तैयार है । फ़िल्म का ट्रेलर लोगों को काफी पसंद आया । फिलहाल विनोद यादव इनदिनों बिजनेस के सिलसिले में बरेली आये हुए है लेकिन जल्द ही मुंबई की ओर प्रस्थान करेंगे ।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

देवेंद्र फड़णवीस का बंगला वाशिंग मशीन का काम कर रही है – बाला साहेब थोरात

कांग्रेस नेता बाला साहेब थोरात ने रश्मि शुक्ला और मोहित कंबोज की देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात पर कहा की देवेंद्र फडणवीस का...

दही हंडी को लेकर सरकार अपनी योजना बताए – सुनील प्रभु

शिवसेना विधायक सुनील प्रभु ने शिंदे सरकार को घेरने का प्रयास किया उंन्होने दही हंडी के आयोजन को लेकर सरकार की घोषणा...

पूरी दुनिया बीजेपी जितना चाहती है – नाना पटोले

कांग्रेस नेता और महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने विधानसभा मानसून सत्र के दूसरे दिन बीजेपी पर निशाना साधते हुए कई एहम...

खड्ढे के कारण नेशनल पार्क ब्रिज पर एक्सीडेंट 2 की मौत

खड्ढे के कारण नेशनल पार्क ब्रिज पर एक्सीडेंट 2 की मौत वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे नेशनल पार्क ब्रिज पर खड्ढे...

बचा पोश एक जटिल प्रथा जो सैकड़ो सालों से अफगानिस्तान में चली आ रही है

बचा पोश यह शब्द सुनकर आप को लग रहा होगा की यह क्या है ?बचापोश एक ऐसे जटिल प्रथा है जो सेकड़ो...