होम Strategy Business सुनील तिवारी विरार वार्ड क्रमांक 8 के बीजेपी अध्यक्ष नियुक्त 

सुनील तिवारी विरार वार्ड क्रमांक 8 के बीजेपी अध्यक्ष नियुक्त 

मुंबई: बीजेपी के युवा पदाधिकारी सुनील तिवारी को बीजेपी विरार शहर मंडल अध्यक्ष प्रोफेसर गोपीनाथ नागरगोजे के हाथों मुंबई से सटे विरार जिला के वार्ड क्रमांक 8 का अध्यक्ष चुना गया है. सुनील तिवारी को  इस पद पर चुने जाने पर उन्होंने प्रोफेसर गोपीनाथ नागरगोजे के प्रति आभार प्रकट किया है. वही पार्टी में इस जिम्मेदारी क़ो दिए जाने पर सुनील तिवारी के जानने वाले लोगों में  सुरेंद्र पाठक, प्राणेश शुक्ला, सचिन राउत अनिल त्रिपाठी, मनोज सिंह, बालकृष्ण मिश्रा, अशोक तिवारी, कपिल सिंह, जय कृष्ण मिश्रा, रविंद्र तिवारी, एडवोकेट अरविंद तिवारी, अखिलेश शुक्ला, जयप्रकाश तिवारी, ऋषि, प्रमोद मिश्रा, विशाल, एवं विरार बीजेपी उपाध्यक्ष राजमन  विश्वकर्मा  मांजरेकर, दिलीप गायकवाड़, अमोल पिम्पले आदि लोगों ने बधाई दी है. बता दें कि सुनील तिवारी उत्तर प्रदेश के जिला जौनपुर गोहका गांव के रहने वाले है. वे अपने परिवार के साथ पिछले 16 साल से विरार में रहते हैं. वे बीजेपी में जुड़ने से पहले  शिक्षा लेने के समय से ही समाजिक कार्यों से जुड़े हुए थे

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

राहुल गांधी आज करेंगें गुजरात मे चुनावी प्रचार

राहुल गांधी आज करेंगे गुजरात मे प्रचार कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज से गुजरता में होने वाले विधानसभा चुनाव...

शिवसेना ने सामना के जरिये बीजेपी और शिंदे सरकार से किया सवाल शिवराय को लेकर ब्यान देने वालो पर क्या है उनकी भूमिका

शिवसेना ने अपने मुख्यपत्र सामना के जरिए बीजेपी - शिंदे सरकार पर निशाना साधते हुए कई सवाल उठाया और इस पर जोर...

नाबालिग बेटी को फांसी लगाकर पिता ने कि हत्या , मोबाइल फ़ोन से मिली तस्वीर ने खोला राज

नाबालिग बेटी की फांसी लगाकर पिता ने की हत्या वारदात के बाद रची आत्महत्या की कहानीदूसरी पत्नी को फसाने...

सामना ने संपादकीय के जरिये इतिहास को तोड़मरोड़ के पेश करने वालो के खिलाफ जताई नाराजगी

सामना के संपादकीय के जरिए शिवसेना ने एक बार फिर निशाना साधा है जो इतिहास बको तोड़मरोड़ के पेश करते है ।...

जितेंद्र आव्हाड के खिलाफ एक और गंभीर मामला दर्ज

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के विधायक और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री रह चुके जितेंद्र अव्हाड की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले...